137 Views

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाये: प्रो योगेश पाल सिंह

रिपोर्ट- आरिफ कस्सार

पिलखुवा (अहम सत्ता) मोनाड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एवं प्रौद्योगिकी द्वारा एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।इस कार्यशाला का शुभारंभ विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति डॉ एन के सिंह,कुलपति डॉ मोहम्मद जावेद, कुलसचिव कर्नल प्रो डॉ डीपी सिंह,उपकुलपति प्रशासनिक प्रो योगेश पाल सिंह,उपकुलपति अकादमिक डॉ जयदीप कुमार,एवं उपकुलपति एडमिशन रोहित शर्मा और मुख्य अतिथि एचसीएल प्रौद्योगिकी के वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर रविकान्त त्यागी ने माँ सरस्वती के छायाचित्र पर पुष्पांजलि एवं दीप प्रज्जवलित कर किया।

तकनीकी नवाचार का महत्व बताने के उद्देश्य ‘फाउंडेशन ऑफ पाइथॉन भविष्य के डेवलपर्स के लिए बिल्डिंग ब्लॉक्स’ विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया।कार्याशाला के मुख्य वक्ता रविकान्त त्यागी को वि०वि० के उपकुलपति अकादमिक डॉ जयदीप कुमार एवं इंजीनियरिंग स्कूल के संकायाध्यक्ष विकास त्यागी द्वारा विश्वविद्यालय का स्मृति चिन्ह एवं पौधा देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि एचसीएल प्रौद्योगिकी के वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर रविकान्त त्यागी ने विद्यार्थियों का ज्ञानवर्धन किया।उन्होंने बिल्डिंग ब्लॉक्स और पायथन में अवसरों और महत्व के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने युवाओं को इस कार्यशाला में भाग लेने और अपने ज्ञान को बढ़ाने और इसे अपने देश भारत के विकास के लिए उपयोग करने का सुझाव भी दिया।

छात्रों को पाइथन में प्रोग्राम बनाने के दौरान कठिनाइयों के बारे में खुद प्रोग्राम बनाकर बताया और समझाया। छात्रों को यह भी समझाया कि इंडस्ट्री में आजकल कैसे कार्यक्षमता को बढ़ाया और निगरानी किया जा सकता है।इस मौके पर वि०वि० के उपकुलपति प्रशासनिक प्रो योगेश पाल सिंह ने छात्र छात्राओं को आज के परिवेश में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और कंप्यूटर लैंग्वेज की बढ़ती उपयोगिता पर विस्तार से प्रकाश डालते हुये कहा कि आज के समय में कोई भी क्षेत्र आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से अछूता नहीं है, इसलिये इस क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनायें हैं। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को राष्ट्र के लिए कुछ करने और भारत सरकार की विभिन्न नवीन प्रतियोगिताओं में भाग लेने की भी अपील की और आयोजकों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए छात्र-छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना की।इस कार्यशाला में वि०वि० के शिक्षक डॉ० अमित सिंघल, अमित कुमार, चेतन्य गुप्ता, नेहा रानी, संतोष कुमार, पवन कुमार शर्मा, दीपक कुमार, विवेक त्यागी, मोहम्मद आमिर, राघवेन्द्र सिंह, मनोज सैनी, गौरव मित्तल, विनय कुशवाह, वि०वि० के मीडिया प्रभारी विपुल चौधरी एवं गणेश शंकर आदि के साथ बड़ी संख्या में छात्र भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *