139 Views

बेहतर सेहत के लिए स्वस्थ-सुरक्षित भोजन जरूरी:डॉ सोमा दास

रिपोर्ट- आरिफ कस्सार

पिलखुवा (अहम सत्ता) मोनाड विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ साइंस एंड एग्रीकल्चर द्वारा एफएसएसएआई के एक प्रमुख कार्यक्रम “द ईट राइट इंडिया” आंदोलन के तहत पोस्टर मेकिंग, स्लोगन लेखन और वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।जिसका उद्देश्य लोगों के स्वास्थ्य और कल्याण को सुनिश्चित करना है।कार्यक्रम का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के प्रतिकुलाधिपति डॉ एन के सिंह,कुलपति डॉ मोहम्मद जावेद,कुलसचिव कर्नल प्रो० डॉ डीपी सिंह, उपकुलपति प्रशासनिक प्रो० योगेश पाल सिंह एवं उपकुलपति एडमिशन रोहित शर्मा द्वारा माँ सरस्वती के छायाचित्र पर पुष्पांजलि एवं दीप प्रज्जवलित कर किया गया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ मोहम्मद जावेद ने बताया कि यह कार्यक्रम एक समन्वित बहु-क्षेत्रीय दृष्टिकोण द्वारा लोगों को अपने सुरक्षित भोजन, स्वस्थ और टिकाऊ आहार के सम्बन्ध में शिक्षा का प्रसार करने और जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से एफएसएसएआई द्वारा अंतर्राष्ट्रीय बाजरा वर्ष-2023 के जश्न को चिह्नित करने के लिए ईट राइट क्रिएटिविटी चैलेंज चरण-04 शुरू किया गया है।

कार्यक्रम आयोजक और गृह विज्ञान संकाय की विभागाध्यक्ष डॉ रितु चिक्कारा ने कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त करते हुये कहा कि सही खान-पान, सुरक्षित और स्वस्थ भोजन विषय के तहत प्रतियोगिता के लिए नियमों और समय के बारे में छात्रों का मार्गदर्शन किया। कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने पोस्टर, स्लोगन और निबंध लेखन कर अपने विचार व्यक्त किये।इस दौरान डॉ सोमा दास,डॉ महीप मिश्रा, डॉ अमित चौधरी और रविंदर प्रतियोगिता के निर्णायक थे। उन्होंने तीनों श्रेणियों में उत्कृष्ट कार्य हेतु प्रथम और द्वितीय पुरस्कार विजेताओं का मूल्यांकन और निर्णय किया।विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ मोहम्मद जावेद, डॉ सौरभी दत्ता एवं अन्य निर्णायकों ने प्रतियोगिताओं के परिणामों की घोषणा की और छात्रों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।कार्यक्रम में डॉ आर बी सिंह, डॉ प्रताप सिंह, राजीव कुमार, डॉ कपिल कुमार के साथ वि०वि० के समस्त शिक्षक, मीडिया प्रभारी विपुल चौधरी, डॉ गणेश शंकर एवं बड़ी संख्या में छात्र भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *