258 Views

रिपोर्ट- आरिफ चौधरी

गाजियाबाद (अहम सत्ता) लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र के गुलाब वाटिका कॉलोनी में बुधवार सुबह डबल मर्डर से सनसनी फैल गई। मां यशोदा देवी 65 वर्ष और बेटे बिजेंदर 35 वर्ष का शव कमरे में बेड के ऊपर पड़ा मिला। दोनों के शव खून से लथपथ थे। दूसरे कमरे की अलमारी से नकदी और जेवरात गायब होने की बात भी सामने आई है। मकान की दूसरी मंजिल पर यह घटना हुई है। तीसरी मंजिल पर बाकी परिवार सो रहा था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण किया।

मृतक यशोदा देवी पत्नी हरि नारायण परिवार के साथ रहती थी। यशोदा के पति की करीब 10 साल पहले ही मौत हो चुकी है। यशोदा का बेटा बिजेंदर दिव्यांग था। मकान की तीसरी मंजिल पर बिजेंदर का भाई धर्मेंद्र अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रह रहा है। सुबह यशोदा और उसके बेटे बिजेंदर का शव कमरे में बेड के ऊपर मिला। दोनों लहूलूहान पड़े थे। धर्मेंद्र के बच्चे जब नीचे आए तो उन्हें घटना का पता चला। इसके बाद परिजनों ने पुलिस को घटना की सूचना दी। परिवार का आरोप है कि हत्यारे घर में घुसे और यशोदा और विजेंद्र की हत्या कर दी।

जल्द ही दोहरे हत्याकांड का खुलासा किया जाएगा: एडीसनल
थाना लोनी बॉर्डर के गुलाब वाटिका क्षेत्र में हुए दोहरे हत्याकांड के बाद धटना स्थल पहुंचे एडीसनल सी पी दिनेश कुमार पी ने धटना स्थल का निरीक्षण किया। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने परिजनों से पूछताछ के दौरान तमाम जानकारियां जुटाई। परिजनों ने बताया कि घर का सभी कीमती सामान सुरक्षित है जल्द ही दोहरे हत्याकांड का खुलासा किया जाएगा। एडिशनल सीपी दिनेश कुमार पी ने जानकारी दी की चेहरे पर गंभीर निशान है। दोनों बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। डॉग स्क्वायड टीम की भी मदद ली जा रही है। जल्दी घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *